Rajasthan ke Sambhag | राजस्थान के संभाग by Raj GK

Rajasthan ke Sambhag - इस पोस्ट में आप Rajasthan ke Sambhag in Hindi, राजस्थान के संभाग by Raj GK के बारे में जानकारी प्राप्त करोगे हमारी ये पोस्ट Rajasthan GK की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण है जो की  BSTC, RAJ. POLICE, PATWARI. REET , SI, HIGH COURT, पटवारी राजस्थान पुलिस और RPSC में पूछा जाता है

Rajasthan ke Sambhag | राजस्थान के संभाग by Raj GK

Rajasthan ke Sambhag | राजस्थान के संभाग by Raj GK
Rajasthan ke Sambhag | राजस्थान के संभाग by Raj GK



राजस्थान में संभागीय व्यवस्था की शुरूआत 30 मार्च 1949 में हीरालाल शास्त्री के द्वारा की गई इस समय राज्य में पांच संभाग थे  बीकानेर, जोधपुर, उदयपुर, कोटा, जयपुर

अप्रेल 1962 में मोहन लाल सुखाडिया सरकार के द्वारा सम्भागीय व्यवस्था को समाप्त कर दिया गया 26 जनवरी 1987 में हरिदेव जोशी की सरकार के द्वारा सम्भागीय व्यवस्था की दोबारा शुरूआत की गई 1987 में नया सम्भाग अजमेर बना । जो कि राज्य का छठा सम्भाग था अजमेर को जयपुर संभाग से अलग करके बनाया गया अजमेर संभाग के निर्माण के समय राज्य का मुख्यमंत्री हरिदेव जोशी था 

राजस्थान के वर्तमान में कुल 7 संभाग हैं जो कि निम्नलिखित हैं

बीकानेर 


जिले - गंगानगर, हनुमानगढ, चुरू, बीकानेर 
Trick : चंगा बीका है 
च - चुरू,
गा - गंगानगर,
बीका - बीकानेर,
 है - हनुमानगढ

बीकानेर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - बीकानेर
बीकानेर संभाग मे क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - हनुमानगढ
बीकानेर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - बीकानेर
बीकानेर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - हनुमानगढ
सबसे कम नदियों वाला संभाग बीकानेर
सर्वाधिक अनुसूचित जाति अनुपात वाला संभाग बीकानेर ।


बीकानेर व चूरू दो ऐसे जिले है जिनसे कोई भी नदी प्रवाहित नहीं होती है ।

जोधपुर


जिले - जैसलमेर, बाडमेर, जालौर, सिरोही, पाली, जोधपुर 
Trick : जासी जैसलमेर जो बाप
जा - जालौर
सी - सिरोही 
जो - जोधपुर
बा - बाड़मेर
प - पाली 

जोधपुर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - जैसलमेर
जोधपुर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - सिरोही
जोधपुर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - जोधपुर
जोधपुर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - जैसलमेर 
सबसे कम जनसंख्या घनत्व वाला संभाग जोधपुर
सबसे कम साक्षरता वाला संभाग जोधपुरा
सर्वाधिक जनसंख्या वृद्धि वाला संभाग जोधपुर
सबसे कम आर्दता वाला संभाग जोधपुर
सबले कम वर्षा वाला संभाग जोधपुर

उदयपुर


जिले - उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ, चित्तोड़गढ़, राजसमन्द
Trick : प्रताप का उचित राज डुबा
प्रताप - प्रतापगढ़
उ - उदयपुर
चित - चित्तोड़गढ़
राज - राजसमंद
डु - डूंगरपुर
बा - बांसवाड़ा

उदयपुर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - उदयपुर
उदयपुर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे  छोटा जिला - डूंगरपुर
उदयपुर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - उदयपुर
उदयपुर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - प्रतापगढ
राजस्थान का क्षेत्रफल की दृष्टि ले बडा संभाग जोधपुर
सर्वाधिक अनुसूचित जनजाति अनुपात वाला संभाग उदयपुर
सर्वाधिक लिंगानुपात वाला संभाग उदयपुर
सर्वाधिक नदियों वाला जिला चित्तौड़गढ
सर्वाधिक नदियों के उद्गम वाला जिला उदयपुर

कोटा


जिले - झालावाड, बाँरा, कोटा, बूंदी
Trick : कोझा बाबू
को - कोटा
झा - झालावाड़
बा - बारा
बू - बूंदी


कोटा संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - बांरा
कोटा संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - कोटा
कोटा संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - कोटा 
कोटा संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से छोटा जिला बूंदी
सर्वाधिक नदियों वाला संभाग कोटा
सबसे कम जनसंख्या वाला संभाग कोटा
सर्वाधिक वर्षा वाला संभाग कोटा
सर्वाधिक आर्दता वाला संभाग कोटा

अजमेर


जिले - अजमेर, नागौर, भीलवाड़ा, टोंक
Trick : अभी नाटो
अ - अजमेर
भी - भीलवाड़ा
ना - नागौर
टो - टोंक

1987 में नया सम्भाग अजमेर बना । जो कि राज्य का छठा सम्भाग था ।
अजमेर को जयपुर संभाग से अलग करके बनाया गया ।
अजमेर संभाग के निर्माण के समय राज्य का मुख्यमंत्री हरिदेव जोशी था ।

अजमेर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - नागौर जिला
अजमेर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - टोंक जिला
अजमेर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - नागौर
अजमेर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - टोंक
राज्य का मध्यवर्ती सम्भाग अजमेर
राज्य के सर्वाधिक 6 संभागों की सीमा को स्पर्श करने वाला सम्भाग अजमेर
अजमेर के अलावा सभी छ: संभाग तीन-तीन संभागों की सीमा बनाते है

जयपुर


जिले - अलवर, जयपुर, सीकर, झुंझुनू, दौसा
Trick : दोसी अंझू की जय
दो - दौसा
सी - सीकर
अ - अलवर
झु - झुंझनू
जय 

जयपुर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - जयपुर 
जयपुर संभाग में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - दौसा 
जयपुर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - जयपुर जिला
जयपुर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - दौसा  
सर्वाधिक जनसंख्या वाला संभाग जयपुर
सर्वाधिक जनसंख्या घनत्व वाला संभाग जयपुर
सर्वाधिक साक्षरता वाला संभाग जयपुर

भरतपुर


जिले - सवाई माधोपुर, करौली, धौलपुर, भरतपुरा
Trick : मां की धोक भर
मा - सवाई माधोपुर
क - करौली
धो - धौलपुर
भर - भरतपुर 

भरतपुर संभाग मे क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - करौली
भरतपुर संभाग मे क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - धौलपुर 
भरतपुर संभाग में जनसख्या की दृष्टि से सबसे बड़ा जिला - भरतपुर 
भरतपुर संभाग में जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा जिला - धौलपुर जिला
सर्वाधिक तीन राज्यों की सीमा बनाने वाला संभाग भरतपुर
भरतपुर के साथ हरियाणा, उत्तरप्रदेश व मध्यप्रदेश की सीमा लगती है ।
राजस्थान का क्षेत्रफल की दृष्टि से छोटा सम्भाग भरतपुर
सबसे कम लिंगानुपात वाला संभाग भरतपुर
राज्य का नवीनतम सम्भाग ( सातव सम्भाग ) भरतपुर 4 जून 2005 को बना
भरतपुर संभाग के समय राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया थी ।
भरतपुर सम्भाग दो सम्मानों से अलग होकर नया सम्भाग बना जो कि निम्नलिखित हैं
जयपुर सम्भाग इससे भरतपुर व धौलपुर जिले लिए गए ।
कोटा सम्भाग इससे सवाई माधोपुर व करौली जिले लिए गए

अन्तर्राष्ट्रीय सीमा बनाने वाले सम्भाग


राज्य के अन्तर्राष्ट्रीय सीमा बनाने वाले सम्भाग बीकानेर, जोधपुर
सर्वाधिक अन्तर्राष्ट्रीय सीमा बनाने वाला सम्भाग जोधपुर ।
न्यूनतय अन्तर्राष्ट्रीय सीमा बनाने वाला सम्भाग बीकानेर ।
अन्तर्राष्ट्रीय सीमा के नजदीक सम्भागीय मुख्यालय-बीकानेरा 
अन्तर्राष्ट्रीय सीमा के दुर सम्भागीय मुख्यालय जोधपुरा
अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर क्षेत्रफल मे बडा सम्भाग जोधपुर 
अन्तर्राष्ट्रीय सीमा पर क्षेत्रफल में छोटा सम्भाग बीकानेर । 

अन्तर्राज्य सीमा बनाने वाले सम्भाग


अन्तर्राज्य सीमा बनाने वाले सम्भागों की संख्या 7 
सर्वाधिक अन्तर्राज्यीय सीमा बनाने वाला सम्भाग उदयपुर
न्यूनतम अन्तर्राज्यीय सीमा बनाने वाला संभाग अजमेर । 
अन्तर्राज्यीय सीमा के नजदीक सम्भागीय मुख्यालय भरतपुर ।
अन्तर्राज्यीय सीमा के दूर सम्भागीय मुख्यालय जोधपुर । 
अन्तर्राज्यीय सीमा पर क्षेत्रफल में बडा सम्भाग जोधपुर ।
अन्तर्राज्यीय सीमा पर क्षेत्रफल में छोटा सम्भाग भरतपुर
दो बार अन्तर्राज्यीय सीमा बनाने वाला सम्भाग उदयपुर 

वर्त्तमान में राजस्थान के संभागों की स्थिति


6 जिलो वाले सम्भाग उदयपुर व जोधपुर
5 जिलों वाला सम्भाग जयपुर
4 जिलों वाले सम्भाग बीकानेर, कोटा, अजमेर व भरतपुर
4 जून 2005 से पूर्व राजस्थान में सम्भागों की स्थिति
7 जिलों वाला सम्भाग जयपुर
6 जिलों वाले सम्भाग जोधपुर, कोटा
5 जिलों वाला सम्भाग उदयपुर
4 जिलों वाले सम्पाग बीकानेर व अजमेर
उदयपुर 26 जनवरी 2008 को प्रतापगढ के नवीनतम जिला बनने के पश्चात 6 जिलों वाला सम्भाग बन गया
राजस्थान के दो सम्भान ऐसे है, जो दो भागों में विभाजित है अजमेर उदयपुर

Read Also


  1. Mewar Vansh ka Itihas | मेवाड़ का इतिहास PART-1
  2. Rawal Ratan Singh History in Hindi | Mewar Vansh Part-2
  3. Sisodiya Vansh ka Itihas | Mewar Vansh Part-3
  4. Rana Kumbha History in Hindi | Mewar Vansh Part - 4
  5. Rana Sanga History in Hindi | Mewar Vansh Part - 5
  6. Maharana Udai Singh History in Hindi - Mewar Vansh Part - 6
  7. Maharana Pratap ka Itihaas - Mewar Vansh Part - 7
  8. Amar Singh History in Hindi
Tags - rajasthan ke sambhag ki trick, rajasthan ke sambhag ke name, rajasthan sambhag trick, 7 sambhag ke naam, udaipur sambhag ke jile, rajasthan ka sabse bada sambhag, rajasthan ka sabse chota sambhag

Post a Comment

0 Comments