Wednesday, 13 February 2019

Rajasthan Budget in Hindi 2019-20 राजस्थान बजट

 इस पोस्ट से आप rajasthan budget in Hindi PDF एवं वर्ष 2019-20 के बजट अनुमान  राजस्थान बजट 2019  राजस्थान सरकारी योजनाएँ 2019 Step by Step राजस्थान बजट की पूरी जानकारी in hindi

Rajasthan Budget in Hindi 2019 - राजस्थान बजट 2019

Rajasthan Budget in Hindi 2019 - राजस्थान बजट 2019
Rajasthan Budget in Hindi 2019 - राजस्थान बजट 2019

राजस्थान सरकार श्री अशोक गहलोत मुख्यमंत्री राजस्थान द्वारा राजस्थान की विधानसभा के समक्ष 2o19-20 के संबंध में प्रस्तुत वक्तव्य


माननीय अध्यक्ष महोदय.
आपकी अनुमति से. मैं राज्य के वर्ष 2018-19 का संशोधित अनुमान एवं वर्ष 2019-20 के लिए वार्षिक वित्तीय अनुमान प्रस्तुत कर रहा हू  हमने प्रदेश वासियों की उम्मीदों पर सदैव खरा उतरते हुए, अपनी जिम्मेदारियों को समर्पित भाव से निभाया है । मेरी सरकार के तीसरे कार्यकाल का यह पहला बजट है । हमारी सरकार ने प्रत्येक बजट में यह प्रयास किया है कि प्रदेश का चहुंमुखी विकास हो और हम विकास के  विभिन्न आयामों को जनता की अपेक्षओं के अनुरूप प्राथमिकता दे ।
साथियों. सादगी के प्रतीक रहे हमारे भारत रत्न' स्व. लाल बहादुर शास्त्री जी ने बिल्कुल ठीक कहा था कि :
“आर्थिक मुददे हमारे लिए सबसे जरूरी है, जिनसे हम अपने सबसे बडे दुश्मन ग़रीबी और बेरोज़गारी से लड़ सकें ।"
इसीलिए हमारी सरकार का यह दृढ विश्वास है कि समाज के हर तबके -खासतौर पर निर्धन. असहाय और पिछड़ो को आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है हम अपने प्रदेश को गरीबी और बेरोजगारी के अभिशाप से मुक्त कर सकते हैं ।
राज्य की जनता ने एक बार फिर हम पर भरोसा जताया है । प्रदेश वासियो का यहीं विश्वास हमारी सरकार की सबसे बड़ी ताकत है । इसी हौसले से हम किसानों, युवकों, महिलाओ, बुजुर्गों, मजदूरो और वंचित तबकों के उत्थान के लिए दिन-रात कड़ी मेहनत करके एक नया  राजस्थान' बनायेंगे ।
मुझे सदन को बताते हुए पीडा हो रही है कि पिछली सरकार के 5 वर्ष के कुशासन ने राज्य को तरक्की की पटरी से नीचे उतार दिया है  हमारे पिछले सेवाकाल में हमने ठोस कदम उठाते हुए अर्थव्यवस्था की बेहतरी के लिए एक गतिशील आर्थिकढांचा तैयार किया था । पिछली सरकार की गलत। नीतियों और अदूरदर्शी सोच के कारण कई आर्थिक मापदण्डो पर राज्य पिछड गया । चाहे वह आर्थिक वृद्धि दर हो या प्रति व्यक्ति आय वृद्धि दर, चाहे वह कृषि क्षेत्र की वृद्धि दर हो या बढता कर्ज मार, चाहे वह राजकोषीय घाटे की बात हो या ऊर्जा क्षेत्र के कुप्रबंधन की सब और विरासत में हमें बेहद चुनौतीपूर्ण हालात मिले है ।
6. गत सरकार के कार्यकाल में राज्य पर कुल ऋण एवं अन्य दायित्वों (Debt and other liabilities)में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है । मेरी पिछली सरकार को दिसंबर, 2008 में विरासत में राज्य के सकल धरेलू उत्पाद से ऋण के अनुपात (Debt to GSDP Ratio) में 36.38 प्रतिशत का भार मिला था  हमारी सरकार अपने बेहतर वित्तीय प्रबंधन से इसे घटाकर वर्ष 2011-12, 2012-13 एवं 2013-14 में क्रमश: 24.51, 23.87 एवं 23.58 प्रतिशत तक ले आयी । परंतु गत सरकार के वित्तीय कुप्रबंधन से यही ऋण अनुपात पुन: बढकर 32 प्रतिशत से अधिक पर पहुंच गया ।
7. वर्ष 2013-14 में हमारी सरकार के समय तक राज्य पर कूल कर्जमार 1 लाख 29 हजार 910 करोड़ का था । बर्ष 2018-19 को संशोधित अनुमान के अनुसार ऋण एवं दायित्व लगभग 138 प्रतिशत बढकर 3 लाख 9 हजार 385 करोड होना अनुमानित है । इस प्रकार गत सरकार राज्य पर एक बडा कर्जभार छोडकर गयी है ।
९ हमारे गत कार्यकाल में वर्ष 2010-11 से लेकर वर्ष 2012-13 तक प्रदेश में राजस्व आधिक्य की स्थिति रही तथा राज्य के सकल घरेलू उत्पाद के प्रतिशत के रूप में राजकोषीय घाटा भी 3 प्रतिशत से कम रहा, जिसको सराहना CAG ने वर्ष 2012-13 की राज्य वित्त की रिपोर्ट में भी की है । गत सरकार ने विरासत में सुदृढ वित्तीय स्थिति मिलने के बावजूद भी अपने संपूर्ण कार्यकाल में राज्य को निरंतर राजस्व घाटे की स्थिति में रखा । साथ ही, पिछली सरकार के समय में केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार के बीच सही समन्वय नहीं होने से प्रदेश को कई फायदों से वंचित रहना पडा । ....Read more download


अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करना

Read also 

  1. लोक देवता तेजाजी का इतिहास | Lok Devta Tejaji Maharaj
  2. राजस्थान के लोक देवता गोगाजी | Goga Medi Rajasthan
  3. राजस्थान के लोक देवता गोगाजी | Goga Medi Rajasthan
  4. लोक देवता पाबूजी महाराज
  5. लोक देवता देवनारायण जी
  6. राजस्थान के लोक देवता हड़बूजी 
  7. लोक देवता मेहाजी
  8. लोक देवता देव बाबा


Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments:

Popular Posts