Thursday, 7 February 2019

राजस्थान के लोक देवता हड़बूजी - rajasthan ke lok devta

यह Rpsc Rajasthan GK (Raj GK ) याद करने का सबसे आसान तरीका है इस पोस्ट से आप राजस्थान के लोक देवता हड़बूजी - rajasthan ke lok devta को Step by Step आसानी से पढ़कर याद कर सकते हैं
राजस्थान के लोक देवता हड़बूजी - rajasthan ke lok devta
राजस्थान के लोक देवता हड़बूजी 

राजस्थान के लोक देवता हड़बूजी - rajasthan ke lok devta

  • हड़बूजी का जन्म भूंडेल (नागौर) में हुआ था । हड़बूजी महाराजा गोपालराज सांखला के पुत्र थे । लोक देवता रामदेवजी हड़बू जी के मौसेरे भाईं थे ।
  • हड़बूजी ने रामदेवजी से प्रेरणा लेकर योगी बालीनाथ जी से दीक्षा ली थी ।
  • हड़बूजी के गुरू का नाम बालीनाथ था ।
  • हड़बूजी का मुख्य पूजा स्थल बेंगटी (फलौदी) में है ।
  • हड़बू जी पांच पीरों में से एक पीर थे ।
  • इनके पूजारी सांखला राजपूत होते है ।
  • हड़बूजी शकुन शास्त्र के ज्ञाता थे ।
  • इनका वाहन सियार होता है ।
  • इसके श्रद्धालुओं द्वारा मांगी गई मनौती का कार्य सिद्ध होने पर गाँव बेंगटी में स्थापित मंदिर में 'हड़बूजी की गाडी ' की पूजा की जाती है । इस गाडी में हड़बूजी पंगु गायों के लिए घास भरकर दूर-दूर से लाते थे ।
  • हड़बूजी राव जोधा के समकालीन थे । इन्होंने राव जोधा को फेंटा तथा तलवार भेंट की थी ।
  • लक्ष्य के प्रति सम्पूर्ण समर्पण तथा अडिग ध्येय निष्ठा के कारण इन्हें लोकदेवता माना गया ।
  • जोधपुर शासक राव जोधा ने हड़बूजी को बेंगटी ( फलोदी ) (मंडोर को मेवाड के अधिकार से मुक्त कराने के उपलक्ष्य में) गाँव भेंट किया ।

Read also 

  1. लोक देवता तेजाजी का इतिहास | Lok Devta Tejaji Maharaj
  2. राजस्थान के लोक देवता गोगाजी | Goga Medi Rajasthan
  3. राजस्थान के लोक देवता गोगाजी | Goga Medi Rajasthan
  4. लोक देवता पाबूजी महाराज
  5. लोक देवता देवनारायण जी
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: