Tuesday, 5 February 2019

लोक देवता देवनारायण जी | dev narayan ji history in hindi

यह Rpsc Rajasthan GK (Raj GK ) याद करने का सबसे आसान तरीका है इस पोस्ट से आप लोक देवता देवनारायण जी ,dev narayan ji history in hindi, देवनारायण जन्म स्थान, devnarayan ji history को Step by Step आसानी से पढ़कर याद कर सकते हैं
लोक देवता देवनारायण जी | dev narayan ji history in hindi

लोक देवता देवनारायण जी का इतिहास

  • इनका जन्म 1243 ईं. में बगड़ावत परिवार में हुआ था ।
  • देवनारायण जी के पिता का नाम सवाई भोज एवं माता का नाम सेडू खटाणी था ।
  • देवनारायण जी के पिता दुर्जनसाल से लडते हुए वीरगती को प्राप्त हो गए ।
  • इनका विवाह राजा जयसिंह की पुत्री पीपलदे के साथ हुआ था ।
  • देवनारायण जी के बचपन का नाम उदयसिंह था ।
  • इनका बचपन ननिहाल मध्यप्रदेश में बीता था ।
  • देवनारायण जी को उदलजी/उदल भगवान/औषधियों वाला देवता के उपनाम से जाना जाता है ।
  • इनका घोडा 'लीलागर' था ।
  • गुर्जर जाति के लोग देवनारायण जी को विष्णु का अवतार मानते है ।
  • देवनारायण जी की फड़ अविवाहित गुर्जर भोपो द्वारा बांची जाती है । देवनारायण जी की फड राज्य की सबसे प्राचीन व सबसे लम्बी फड है । इनकी फड़ पर भारत सरकार द्वारा 1992 में पांच रुपये का डाक टिकट जारी किया गया ।
  • देवनारायण जी की फड़ में जंतर वाद्य यंत्र का प्रयोग किया जाता है । देवनारायण जी को राज्य क्रांति का जनक माना जाता है । देवनारायण जी ने औषधि के रूप में गोबर और नीम के महत्व को स्पष्ट किया है ।
  • इनका मूल 'देवरा' आसींद भीलवाड़ा से 14 मील दूर गोठा दडावत में है ।
  • देवनारायण जी के देवरों में उनकी प्रतिमा के स्थान पर बडी ईटों की पूजा की जाती है ।
  • देव जी के अन्य देवरे-देवमाली (ब्यावर, अजमेर) , देवधाम जोधपुरिया (निवाईं, टोंक) व देव डूंगरी पहाड़ी चित्तौड़ में है ।
  • देवनारायणजी का मंदिर आसींद (भीलवाड़ा) में है जहाँ प्रतिवर्ष भाद्रपद शुक्ल पक्ष की सप्तमी को मेला लगता है ।
  • मेवाड शासक महाराणा साँगा का आराध्य देव देवनारायण जी थे इसी कारण देवदूँगरी (चित्तौड़रगढ) मे देवनारायणजी का मंदिर का निर्माण राणा साँगा ने ही करवाया था ।

देवनारायण जी के बारे में अन्य महत्वपूर्ण तथ्य

  • देवनारायण जी ने भिनाय (अजमेर) के शासक को मारकर अपने बड़े भाई "महेंदू को राजा बनाया था ।
  • देवनारायणजी पर फिल्म बन चुकी है फिल्म में देवजी की भूमिका नाथूसिंह गुर्जर ने की थी ।
  • नाथूसिंह गुर्जर भारतीय जनता पार्टी के नेता, सांसद विधायक और राजस्थान राज्य मंत्रिमण्डल में मंत्री भी रहे है ।
  • देवधाम जोधपुरिया, टोंक जिले में स्थित है । प्रतिवर्ष यहां देवनारायण के भव्य मंदिर में भाद्रपद शुक्ल सप्तमी का मेला भरता है ।
  • आसीन्द (भीलवाडा) में देवनारायण जी की ईंट के रूप में पूजा होती है ।
  • देवनारायण जी की पूजा नीम की पत्तियों से होती है ।
  • इनके बारे में लोगों का विश्वास है कि इनका जन्म नहीं हुआ था वे कमल के फूल में अवतरित हुए थे ।
  • देवनारायण जी ने अपने पिता की हत्या का बदला लिया तथा अपने पराक्रम और सिद्धियों का प्रयोग अन्याय का प्रतिकार करने और जनकल्याण में किया ।
  • देवमाली (ब्यावर) में उन्होंने भाद्रपद शुक्ल सप्तमी देह त्यागी ।
  • देवनारायण जी पर ( स्वयं पर ) 2011 में पाँच रूपये की डाक-टिकट जारी की गई ।
अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करना

Read also 

  1. लोक देवता तेजाजी का इतिहास | Lok Devta Tejaji Maharaj 
  2. राजस्थान के लोक देवता गोगाजी | Goga Medi Rajasthan 
  3. राजस्थान के लोक देवता गोगाजी | Goga Medi Rajasthan
  4. लोक देवता पाबूजी महाराज
Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments:

Popular Posts