Thursday, 8 August 2019

राजस्थान में प्रमुख लोक देवताओं के मेले | Rajasthan Ke Mele Part 5

प्रमुख लोक देवताओं के मेले 

राजस्थान में प्रमुख लोक देवताओं के मेले | Rajasthan Ke Mele Part 5
राजस्थान में प्रमुख लोक देवताओं के मेले | Rajasthan Ke Mele Part 5

जसनाथ जी का मेला - यह मेला कतरियासर (बीकानेर) में लगता है ।
जाम्भोजी का मेला - यह मेला मुकाम (नोखा) (बीकानेर) में लगता है
  • यह फाल्गुन एवं आश्विन अमावस्या में लगता है ।
  • यह बिश्नोई सम्प्रदाय का मेला है ।
  • यह मेला वर्ष में दो बार भरता है ।

रामदेवरा का मेला - यह मेला पोकरण (जैसलमेर) में लगता है
पनराज जी का मेला जैसलमेर
मल्लीनाथ पशु मेला - यह तिलवाड़ा (बाडमेर) में लगता है
  • यह मेला चैत्र कृष्ण एकादशी से चैत्र शुक्ल एकादशी में लगता है ।
  • मल्लीनाथ पशु मेला लूनी नदी पर आयोजित होता है ।

वीर फता जी का मेला सांथू गाँव ( जालौर) ।
ऋषभदेव/केसरियानाथ जी का मेला - धुलैव (उदयपुर)

गोतमेश्वर मेला आरनोद (प्रतापगढ)

  • यह मेला प्रतिवर्ष बैशाख पूर्णिमा को लगता है ।
  • गोतमेश्वर नामक स्थल पर गौतम ऋषि ने तपस्या की थी ।
  • आदिवासी इस मेले के अवसर पर अपने दिवंगत परिवारजनों की अस्थियों को विसर्जित करते है ।

देवनारायण जी का मेला आसीन्द ( भीलवाडा) । 
सवाई भोज मेला आसींद ( भीलवाडा) । 
  • यह मेला भाद्र शुक्ल अष्टमी को लगता है ।

देव बाबा का मेला नगला जहाज (भरतपुर) । 
जगन्नाथ जी का मेला रूपवास ( अलवर) ।  
  • आषाद सुदी 8 से 13 तक भरता है । 
दादू जी का मेला - नारायणा (जयपुर) । 
मामदेव का मेला - स्यालोदड़ा गांव (सीकर) । 
बाबा झुंझार जी का मेला - स्यालोदड़ा गाँव( सीकर) । 

गोगामेडी मेला गोगामेडी (हनुमानगढ) 


  • गोगानवमी (भाद्रपद कृष्ण नवमी) को भरता है ।  
  • यहाँ गोगाजी का थान बना हुआ है । 
  • गोगाजी को सपों का देवता के रूप में पूजा जाता है ।
  • एक अन्य गोगाजी का मेला गोगाजी की ओल्डी साचौर (जालौर) में भरता है । 
वीर तेजाजी का पशु मेला - परबतसर नागौर । 
  • यह मेला भाद्र शुक्ल पक्ष की दशमी को भरता है ।
  • यह मेला नागौरी बैल से सम्बन्धित है । 
  • आय की दृष्टि से राजस्थान का सबसे बडा मेला है । 

पाबूजी का मेला - जोधपुर । 
माकड़ जी का मेला अजमेर । 
  • यह मेला आषाढ शुक्ल द्वितीया को भरता है ।

ये भी पढ़े 


Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: