Thursday, 24 January 2019

Rajasthan me Urja Sansadhan - बायोगैस in Rajasthan

आज हम Rajasthan me Urja Sansadhan - बायोगैस in Rajasthan के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी आपके लिए लेकर आए हैं यह पोस्ट Rajasthan GK से संबंधित है Rajasthan me Urja Sansadhan -biomass in Rajasthan का उल्लेख इस में किया गया है
बायोगैस in Rajasthan
बायोगैस in Rajasthan

Rajasthan me Urja Sansadhan - बायोगैस in Rajasthan


  • राजस्थान में नई बायोमास नीति 26 फरवरी, 2010 को लागू की गई ।
  • जानवरों के मल-मूत्र के वायु रहित अवस्था में अपघटन होने पर जीवाणुओं की क्रिया से एक ज्वलनशील गैस का निर्माण होता हे । इसमें मीथेन ( 65% ) कार्बन डाई आक्साईड  ( 30% ) व कुछ हाइड्रोजन होती है ।
  • राज्य में सर्वाधिक बायोगैस ( biogas ) संयंत्र उदयपुर जिले में संचालित है ।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में पारिवारिक कार्यो के लिए दो प्रकार के गोबर गैस संयंत्र मॉडल विकसित किए गए
  1. खादी ग्रामोद्योग कमीशन मॉडल । 
  2. जनता मॉडल या दीनबंधु मॉडल ।

बायोमास ( Biomass ) ऊर्जा


  • बायोमास ( biomass ) ऊर्जा संयंत्र में पदार्थ के रूप में विलायती बबूल, चावल की भूसी , गन्ने की सीठी , कपास के डण्ठलो , सरसों की तूडी/भूसी जूली वनस्पति आदि का उपयोग किया जाता है । biomass पॉलिसी 26 फरवरी, 2010 को घोषित इस नीति में राज्य में 300 मेगावाट से अधिक उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है ।
  • राज्य का प्रथम बायोमास ( biomass ) आधारित संयंत्र श्री गंगानगर के पदमपुर में मैमर्स कल्पतरू एनर्जी वेंचर्स द्वारा लगाया गया ।
  • हाडौती का पहला biomass आधारित संयंत्र रंगपुर-कोटा में बनाया गया ।
  • कचरे से बिजली बनाने का पहला संयंत्र जयपुर में बनाया गया ।
  • विलायती बबुल से बिजली बनाने का संयंत्र नोला बाँस अजमेर में बनाया गया ।
  • बायोमास से राज्य में सबसे पहले अजमेर जिले के संपूर्ण गांव विद्युतीकृत हुए
  • कैप्टिव पावर प्लांट योजना के तहत राज्य में खेडली, अलवर में सरसों खल आधारित संयंत्र स्थापित किया गया है ।

तापीय ऊर्जा


  • पृथ्वी के भीतर से प्राप्त ताप के प्रयोग को भू गर्भिक ऊर्जा कहते है ।
  • राजस्थान में इस ऊर्जा का प्रयोग वर्तमान में नहीं हो रहा है ।
  • भूतापीय ऊर्जा के राज्य में दो संभावित क्षेत्र है
  1. माउंट आबू( सिरोही )
  2. पुष्कर ( अजमेर ) ।
ज्वारीय ऊर्जा - इस ऊर्जा का राजस्थान मे पूर्णत अभाव है  यह ऊर्जा समुन्द से प्राप्त होती है।

दोस्तों यह Rajasthan GK (Raj GK ) Rpsc Exam ka gk याद करने का सबसे आसान तरीका है इस पोस्ट से आप Rajasthan me Urja Sansadhan - बायोगैस in Rajasthan को Step by Step आसानी से पढ़कर याद कर सकते हैं अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करना

Read Also

  1. Pawan Urja Project in Rajasthan - राजस्थान में पवन ऊर्जा
  2. Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna in Hindi
  3. Rajasthan Gas Vidyut Pariyojana in Hindi
  4. राजस्थान की तापीय परियोजना | Rajasthan ki Vidyut Pariyojana
  5. Rajasthan ki Jal Vidyut Pariyojana | जल विद्युत परियोजनाए
  6. राजस्थान में ऊर्जा विकास | Rajasthan ke Urja Sansadhan
  7. राजस्थान सौर ऊर्जा - Rajasthan me Saur Urja
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: