Sunday, 20 January 2019

Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna in Hindi


नमस्कार दोस्तों Raj GK में आपका स्वागत है आज हम Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna राजस्थान परमाणु ऊर्जा परियोजना के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी आपके लिए लेकर आए हैं यह पोस्ट Rajasthan GK से संबंधित है राजस्थान के विद्युत परियोजना का उल्लेख इस में किया गया है
Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna in Hindi
Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna in Hindi

Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna 

राजस्थान परमाणु ऊर्जा परियोजना

राजस्थान परमाणु ऊर्जा स्टेशन या राजस्थान परमाणु ऊर्जा परियोजना (Rajasthan Atomic Power Station or Rajasthan Atomic Power Project) भारत के राजस्थान राज्य के रावतभाटा में स्थित है।

रावतभाटा परमाणु विद्युत गृह rawatbhata power plant

  • इसकी स्थापना कनाडा के सहयोग से 1973 में की गई ।
  • यह भारत का दूसरा परमाणु विद्युत गृह है ।
  • भारत का प्रथम विद्युत गृह तारापुर ( महाराष्ट्र ) में स्थित है । इसकी स्थापना 1969 में की गई ।
  • रावतभाटा परमाणु विद्युत गृह का संचालन नाभिक के ऊर्जा निगम (NPC) द्वारा की गई ।
  • Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna me राज्य की कुल विद्युत उत्पादन मे रावतभाटा का 30 प्रतिशत हिस्सा है ।
  • यह दाबित भारी पानी किस्म में रिएक्टर की श्रृंखला वाला देश का प्रथम प्रोजेक्ट है ।
  • भारत में भारी पानी के जनक - एस. फरीदुद्दीन ।
  • यह चितौड़गढ के रावतभाटा नामक स्थान पर राणाप्रताप सागर बांध के समीप स्थित है ।
  • वर्तमान में, रावतभाटा परमाणु ऊर्जा संयंत्र की 8 इकाइयों की क्षमता 2580 मेगावाट है।

Other fact 

  • राणा प्नताप सागर बांध जल भराव की दृष्टि से राज्य का सबसे बडा बांध है ।
  • पेय जल की दृष्टि से राज्य को सबसे बडी परियोजना बीसलपुर परियोजना टोंक है ।
  • टोरडी सागर राज्य का एकमात्र ऐसा बांध है जिसके सभी दरवाजे खोल देने पर इसमें एक बूंद जल भी शेष नहीं रहता 
  • जवाई बांध को मारवाड़ का अमृत सरोवर कहा जाता है
  • राज्य में मिट्टी से बना एकमात्र बांध पांचना बांध ( करौली ) है ।
  • जो पांच नदियों के संगम ( अटा, माची , भद्राव्रती, भेंसावर , बरखेडा ) पर स्थित है ।
  • भारत का सबसे बड़ा बांध हीरांकुण्ड बांध उडीसा में स्थित है ।
  • देश का सबसे ऊंचा बांध भाखड़ा बांध हिमाचल में स्थित है ।
  • भारत का सर्वाधिक ऊंचाई पर स्थित बांध टिहरी बांध उत्तराखण्ड में स्थित है ।
  • देश की सबसे लंबी नहर परियोजना इदिरां गांधी नहर परियोजना है ।
  • India की सबसे प्राचीनतम नहर परियोजना गंगनहर परियोजना है । 

बांसवाड़ा परमाणु विद्युत गृह

  • यह नापला गांव ( बांसवाड ) मे माही नदी के किनारे पर स्थापित किया जाएगा ।
  • परमाणु ऊर्जा आयोग द्वारा भारत का पहला ट्रिटियम सेपेरेशन प्लांट राजस्थान के कोटा जिले में लगाने की घोषणा की है ।

राजस्थान में 2800 मेगावाट के चार नए परमाणु रिएक्टर होंगे

  • देश में स्वीकृत 10 स्वदेशी परमाणु ऊर्जा रिएक्टर; यह 20 जुलाई  कोटा से 7000 मेगावाट बिजली पैदा करेगा।
  • राजस्थान देश के परमाणु ऊर्जा उत्पादन में अग्रणी राज्यों की सूची में शामिल होगा।
  • केंद्र सरकार ने बांसवाड़ा जिले में माही नदी के पास 2,800 मेगावाट क्षमता के चार नए परमाणु रिएक्टर स्थापित करने के लिए प्रशासनिक और वित्तीय मंजूरी दी है।
  •  इसमें राजस्थान के माही, बांसवाड़ा में 700-700 मेगावाट के चार रिएक्टर, वित्तीय मंजूरी दी है।
  • अन्य स्थानों के लिए पर्यावरण मंजूरी प्रक्रिया चल रही है।
  • इसके अलावा, परियोजना के निर्माण के लिए उपयोग किए जाने वाले तकनीकी उपकरणों और जनशक्ति के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

अन्य महत्वपूर्ण तथ्य

rawatbhata nuclear power plant capacity

  • वर्ष 2031 तक, देश की कुल परमाणु ऊर्जा क्षमता निर्माण के तहत 500 मेगावाट क्षमता के प्रोटोटाइप रिएक्टर के जल्दी पूरा होने के बाद 22,480 मेगावाट तक बढ़ जाएगी और भारतीय परमाणु ऊर्जा निगम द्वारा 10 प्रस्तावित नए रिएक्टर तैयार किए गए हैं।
  • प्रत्येक दबे हुए भारी जल रिएक्टर (PHWR) की क्षमता 700 मेगावाट होगी।
  • अब तक 500 प्रोटोटाइप रिएक्टर लगाए जा रहे थे।
  • भारतीय परमाणु ऊर्जा निगम लिमिटेड (NPCIL) द्वारा स्वदेशी तकनीक से निर्मित 700 मेगावाट क्षमता के रिएक्टर को स्थापित किया जाएगा।
  • Rajasthan Parmanu Urja उत्पादन के शीर्ष पर, अगर राज्य में 2800 मेगावाट क्षमता का दूसरा परमाणु ऊर्जा संयंत्र चालू है, तो कुल 4380 मेगावाट परमाणु ऊर्जा उत्पन्न होगी।
  • कोयला आधारित बिजली उत्पादन में राजस्थान पहले से ही अग्रणी है।
  • राज्य के कोटा, सूरतगढ़, छाबड़ा और कालीसिंद में सुपर थर्मल पावर स्टेशनों, रामगढ़ गैस प्लांट, धौलपुर, गिरल लिग्नाइट प्लांट और हाइडल पावर घरों से कुल 5957.35 मेगावाट ऊर्जा का उत्पादन किया जा रहा है।
  • वर्तमान में, राज्य में सौर ऊर्जा से 2280 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जा रहा है,
  • जबकि 1500 मेगावाट की 20 परियोजनाएं पाइपलाइन में हैं।
  • पवन ऊर्जा 4292.54 मेगावाट और बायोमास ऊर्जा 120.45 मेगावाट है।
  • 2022 तक राज्य में 7000 मेगावाट अक्षय ऊर्जा का उत्पादन करने का लक्ष्य है।

दोस्तों यह Rajasthan GK (Raj GK ) Rpsc Exam ka gk याद करने का सबसे आसान तरीका है इस पोस्ट से आप राजस्थान परमाणु ऊर्जा परियोजना (Rajasthan me Parmanu Urja Pariyojna ) को Step by Step आसानी से पढ़कर याद कर सकते हैं अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करना


Read also

Revolution in Rajasthan राजस्थान में 1857 की क्रांति
English East India Company ke Sath 1818 ki Sandhi
राजस्थान की स्थिति और विस्तार - Rajasthan ki Sthiti or Vistar
Previous Post
Next Post

post written by:

0 comments: