Sunday, 4 August 2019

राजस्थान में प्रमुख मुस्लिम मेले और उर्स‬ | Muslim Mele in Rajasthan

राजस्थान में प्रमुख मुस्लिम मेले

राजस्थान में प्रमुख मुस्लिम मेले और उर्स‬ | Muslim Mele in Rajasthan
राजस्थान में प्रमुख मुस्लिम मेले और उर्स‬ | Muslim Mele in Rajasthan

मलिक शाह पीर का उर्स 

  • यह उर्स जालौर दुर्ग में लगता है 
  • यह उर्स अजमेर उर्स के पश्चात लगता है । 

गलियाकोट का उर्स 

  • यह उर्स डूंगरपुर में लगता है । 
  • यह उर्स दाउदी बोहरा संमप्रदाय का सबसे बडा उर्स है ।
  •  गलियाकोट डूंगरपुर में माही नदी के किनारे स्थित है ।

गागरोन का उर्स 

  • यह उर्स गागरोन दुर्ग (झालावाड) में मीठेशाह की दरगाह पर लगता है ।

नरहड़ के पीर का उर्स

  • यह उर्स नरहड़ (झुंझुनू) में लगता है । 
  • यह उर्स भाद्रपद कृष्ण अष्टमी जन्माष्टमी के दिन लगता है । 
  • यहाँ पर हजरत हाफिज शक्कर बाबा शाह की प्राचीन दरगाह है । 
  • शक्कर बाबा को बागड का धनी के उपनाम से भी जाना जाता है । 
  • इस दरगाह में जाल का वृक्ष है, जिस पर जायरिन अपनी मन्नतों के डोरे टांग देते है उनकी मन्नतें पूरी हो जाती है ।

तारकीन का उर्स

  • यह उर्स नागौर में लगता है । यह उर्स राज्य का दूसरा सबसे बड़ा उर्स है । 

चौटीला पीर का उर्स

  • यह उर्स पाली जिले में पीर दुल्लेशाह की दरगाह पर लगता है । 
  • यह उर्स कार्तिक कृष्ण प्रतिपदा व द्वितीया को लगता है ।

पंजाबशाह का उर्स  

  • यह उर्स अजमेर में ढाई दिन का झोंपड़ नामक स्थान पर लगता है ।

ख्वाजा साहब का उर्स

  • यह उर्स ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह अजमेर में लगता है ।
  • यह उर्स अजमेर में रज्जब माह की 1 से 6 तारीख को लगता है । 
  • अजमेर में 2016 में 804वाँ उर्स लगा । 
  • यह मुस्लिम धर्म का सबसे बड़ा उर्स है । 
  • इस उर्स का उद्घाटन भीलवाडा का गौरी परिवार करता है ।
Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: